17.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

कॉलेज के फाइनल ईयर में आया ये यूनिक आइडिया, 9 महीने में किया 50 लाख का बिजनेस

कोई फ़िल्म या वेब सीरीज किसी को इतना पसंद आ जाता है कि वह व्यक्ति उससे प्रेरणा लेकर उस पर अमल करना शुरू कर देता है। ऐसा सच में हुआ है।

झारखंड के रहने वाले कुंदन मिश्रा ने भी कुछ इसी तरह का काम किया है। उन्होंने एक वेब सीरीज़ को देखा और वो इससे इतने ज्यादा प्रेरित हुए कि खुद का स्टार्टअप शुरू कर दिया। आज कुंदन 50 लाख से अधिक की कमाई कर रहे हैं। एक छात्र से एंटरप्रेन्योर बनना इतना आसान नहीं होता। आइए जानते हैं उनके बारे में।

जीवन में आया बदलाव

झारखंड के सामान्य परिवार में जन्में कुंदन मिश्रा इंजीनियंरिग के स्टूडेंट थे। कुंदन जब सिक्किम मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में इंजीनियरिंग के अपने तीसरे वर्ष में थे तब उन्होंने ऑनलाइन सीरीज़ TVF Pitchers को देखा। जिसमें चार दोस्तों ने स्टार्टअप शुरू करने के लिए अपनी नौकरी छोड़ दी थी। बस यही बात कुंदन के दिल में भी जगह बना गई थी। तब से वह अपने स्टार्टअप का सपना देखने लगे और इस सपने को सच करने की दिशा में उन्होंने एक कदम उठाया।

यह भी पढ़ें: सेल्फी लेना पड़ गया भारी, हलाली डैम के पानी में गिरी डॉक्टर की पत्नी, अबतक नहीं मिली बॉडी

नौकरी का विचार छोड़ना पड़ा

कुंदन प्रोफेसर तेज एस चिंगथम से मिले, जो वर्तमान में भारत सरकार के AIC-SMU टेक्नोलॉजी बिजनेस इनक्यूबेशन फाउंडेशन के सीईओ हैं। उनके साथ अपने स्टार्टअप पर चर्चा की। उस बातचीत ने कुंदन को अपना स्टार्टअप शुरू करने पर विवश कर दिया। इसलिए कुंदन ने नौकरी करने का विचार छोड़ दिया।

परेशानियों में भी नहीं मानी हार

स्टार्टअप शुरू करने के समय कुंदन को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा। उनके स्टार्टअप को कॉलेजों और लोगों से प्रोडक्ट की गुणवत्ता से संबंधित कुछ शिकायतें भी मिली। लेकिन उन्होने इसे सकारात्मक रुप से लिया। कुंदर ने अपनी कंपनी Custkart की जब शुरूआत की थी तब पूरी दुनिया क’रोना म’हामारी से जूझ रही थी। इन विपरित परिस्थितियों में भी उन्होंने अपने बिज़नेस को बनाए रखा।

यह भी पढ़ें: जानिए कौन हैं ‘बिरुबाला’ जिनके नाम से डायन का शिकार करने वाले खाते हैं खौफ

छोटे स्टार्टअप से की शुरूआत

कुंदन ने अपना बिज़नेस स्थापित करने के लिए सबसे पहले टी-शर्ट छापने के बारे में सोचा उनका यह काम निकल पड़ा। वह टी-शर्ट प्रीटिंग के साथ, उस पर लोगों लगाने और नए डिज़ाइन की छपाई करने का काम करन लगे। उन्हें झारखंड में ही सबसे पहल 10 ऑर्डर मिले। वह थर्ड पार्टी के सेलर्स से मिले ऑर्डर को पूरा करने में कामयाब रहे। धीरे-धीरे उन्हें और ऑर्डर मिलने लगे। इसके बाद उन्होंने अपने भाई अभिषेक मिश्रा के साथ साल 2020 में आधिकारिक रूप से अपनी कंपनी Custkart की शुरूआत की। जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

झारखंड को ही चुना बिज़नेस का क्षेत्र

कुंदन ने अपने जन्म स्थल झारखंड के बोकारों को ही बेस चुना। कुंदन का कहना है कि वह हमेशा अपने गृह नगर और गाँव में काम करना चाहते थे। स्थानीय लोगों के लिए रोजगार पैदा करना चाहते थे ताकि उन्हें अपने परिवार को कहीं और नौकरी की तलाश में न छोड़ना पड़े।

बिज़नेस में पाई सफलता

कुंदन मिश्रा ने अपनी स्टार्टअप कंपनी Custkart में, कॉर्पोरेट्स में ग्राहकों की आवश्यकताओं का ध्यान रखा है। उन्होंने उपयोगकर्ताओं की पसंद पर विचार किया। जिन्हें आमतौर पर कभी भी ध्यान में नहीं रखा जाता है। कस्टकार्ट ने पिछले 6 महीनों में मुट्ठी भर कॉर्पोरेट संस्थानों के साथ-साथ पूरे भारत में 25 से अधिक इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों के लिए एक लाख ऑर्डर पूरे किए हैं। कुंदन की कंपनी 50 लाख रुपये के टर्नओवर के साथ तगड़ी कमाई भी की है।

कुंदन मिश्रा की कंपनी आज कई लोगों को रोजगार प्रदान कर रही है।

Sunidhi Kashyap
Sunidhi Kashyap
सुनिधि वर्तमान में St Xavier's College से बीसीए कर रहीं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ सुनिधि अपने खूबसूरत कलम से दुनिया में बदलाव लाने की हसरत भी रखती हैं।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -