17.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

अनूठा प्रेम: शादी के दिन ही टूट गई दुल्हन के रीढ़ की हड्डी, दूल्हे ने फिर भी नहीं तोड़ी शादी

ऐसे तो शादी में दूल्हा-दुल्हन एक दूसरे से वादा करते हैं कि वो किसी भी विकट परिस्थिति में एक दूसरे का साथ नहीं छोड़ेंगे। लेकिन इन वादों को कोई शादी से पहले ही निभा दे, आमतौर पर ऐसा कम ही देखने को मिलता है। हाल ही में यूपी के प्रयागराज में हुए इस घटना से यह साबित हो गया है कि कुछ लोग शादी से पहले भी इस प्रकार के वादों को निभाते हैं। आइये जानते हैं पूरी ख़बर…

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के कुंडा इलाके की रहने वाली आरती की शादी अवधेश नाम के एक लड़के से होना तय हुआ था। सबलोग बहुत खुश थे। लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था। हुआ यूँ कि शादी के दिन ही आरती छत पर खेल रहे अपने 3 साल के भतीजे को बचाने के चक्कर में छत से नीचे गिर गयी। आनन फानन में आरती को पास के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया गया।

अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने बताया कि आरती के रीढ़ की हड्डी टूट चुकी है एवं उनके दोनों पैरों की शक्ति भी खत्म हो गई है। ऐसी बात सुनते ही आरती के परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्हें लगा कि अब उनकी बच्ची की शादी कैसे होगी?

यह भी पढ़ें: अनाथ लड़की ने राखी बांधकर दरोगा जी को बनाया था भाई, शादी में दरोगा जी ने भी कुछ यूँ निभाया फ़र्ज़

किसी तरह डरते-डरते आरती के परिजनों ने इस घटना के बारे में लड़के के घरवाले को सूचित किया। इस घटना की जानकारी मिलते ही लड़के के घरवाले जल्दी से अस्पताल पहुंचते हैं। घटना की जानकारी दूल्हे को भी दी जाती है। आरती के घर वाले अवधेश से अपनी छोटी लड़की से शादी करने का प्रस्ताव रखते हैं लेकिन अवधेश इस बात से साफ-साफ इंकार कर देते हैं। दूल्हा किसी भी परिस्थिति में आरती से ही शादी करने का निश्चय कर लेता है। अवधेश अपने जीवनसाथी के रूप में आरती को ही अपनाना चाहता है।

अवधेश जिंदगी भर आरती का ही साथ रहने का वादा भी करता है। अवधेश के इस फैसले से दोनों के घर वाले भी सहमत हो गए। डॉक्टर से परमिशन लेकर आरती को एंबुलेंस से उसके घर कुंडा ले जाकर शादी की रस्म पूरी की गई। इसके बाद आरती को दोबारा अस्पताल ले जाया गया। हाथों में मेहंदी लगाए नई नवेली दुल्हन का अवधेश पूरी तरह से ख्याल रखते हैं। हमेशा उसके आसपास ही रहते हैं। दोनों के प्रेम और साहस को देखकर दोनों के ही परिजन उनको शाबाशी देते हैं।

अवधेश ने जिस सच्चे प्रेम का परिचय दिया, वह वाकई काबिलेतारीफ है। आप भी इस पोस्ट को शेयर करके सच्चा प्रेम करने वालों का हौसला ज़रूर बढ़ाएं।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -