19.1 C
New Delhi
Thursday, February 2, 2023

बिहार के एक मुस्लिम परिवार ने राम मंदिर निर्माण में दान की 90 लाख की संपत्ति, पेश की एक अनोखी मिसाल

भारत अपनी संस्कृति एवं अपनी महानता के लिए पूरी दुनियां में जाना जाता है। यहां हर धर्म के लोग एकता और भाईचारा के साथ रहते है। यहां लोग अपने धर्म के तरह ही दूसरे धर्म का भी सम्मान करते है। आज आपको हम एक ऐसी अनोखी स्टोरी बताने जा रहे है। बिहार (Bihar) के रहने वाले मोहम्मद समर गजनी (Mohammed Samar Gajini) लोगों के लिए मिसाल बन कर उभरे है। आइए जानें मोहम्मद गजनी के बारे में।

लोगों के लिए मिशाल बने मोहम्मद गजनी

बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) जिले के कोतवाली क्षेत्र के खालापार के रहने वाले मोहम्मद समर गजनी इन दिनों लोगों के बीच चर्चा का विषय बने हुए हैं। उनके वायरल होने की वजह यह है कि उन्होंने अपनी 90 लाख रुपए की निजी संपत्ति अयोध्या (Ayodhya) में निर्मित हो रही राम मंदिर के निर्माण के लिए उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्य मंत्री आदित्यनाथ योगी (Adityanath Yogi) को 6 मई को सौंप दिया है। मोहम्मद गजनी भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मंत्री भी रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें: देसी जुगाड़: गर्मी से बचने के लिए बारातियों के स्वागत में लगा दिया थ्रेशर मशीन

राम मंदिर निर्माण के लिए 90 लाख की संपत्ति सौंपा

मीडिया रिपोर्ट (Media Reporters) के अनुसार मोहम्मद समर गजनी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से मिलकर अपने 90 लाख रूपए की संपत्ति का दस्तावेज 6 मई को सौंप दिया। ताकि उनकी इस संपत्ति को बेच कर सरकार इससे मिलने वाली धनराशि को राम मंदिर निर्माण में इस्तेमाल करें। मोहम्मद गजनी का कहना है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री किसी भी धर्म के खिलाफ नहीं है लेकिन योगी माफिया और गुंडों के विरुद्ध है।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -