19.1 C
New Delhi
Thursday, February 2, 2023

‘बाबा का ढाबा’ वाले बाबा को हुआ पश्चाताप, बोले- “मुझसे गलती हुई, सजा दो

बाबा का ढाबा चलाने वाले कांता प्रसाद कभी सोशल मीडिया पर काफी मशहूर हुए थे। उनकी इतनी चर्चा हुई थी कि उनके ढाबे पर खाना खाने वालों की लाइन लग गई थी। लेकिन अब कांता प्रसाद को व्यापार में जबरदस्त नुकसान हुआ है और मजबूरन उन्हें अपने पुराने काम पर लौटना पड़ा है।

जी हां, कांता प्रसाद ने लोगों से मदद मिलने के बाद पिछले ही साल दिसंबर के महीने में अपना एक रेस्टोरेंट खोल लिया था, पर कांता प्रसाद को अब अपना यह रेस्टोरेंट बंद करना पड़ा है। लेकिन एक बार फिर वह चर्चा में है। आइये जानते है।

यूट्यूबर गौरव वासन पर लगाया था आरोप।

कांता प्रसाद ने यूट्यूबर गौरव वासन पर धोखाधड़ी, विश्वासघात, पैसों के हेर-फेर, आपराधिक साजिश का आरोप लगाया था। इसके अलावा वासन पर यह भी आरोप लगा था कि उन्होंने जानबूझकर केवल अपने और अपने परिवार, दोस्तों के बैंक डिटेल और मोबाइल नंबर दानदाताओं के साथ साझा किए और उनको कोई भी जानकारी दिए बिना विभिन्न प्रकार के भुगतानों के माध्यम से दान की भारी राशि इकट्ठा की।

बाबा ने अब माफी मांगी।

अब जब वह रेस्टोरेंट बंद हो जाने के बाद अपने पुराने ढाबे पर लौटे हैं तो वह गौरव वासन के साथ किए अपने बर्ताव पर अफसोस कर रहे हैं। बाबा अब अपनी इस व्यवहार पे शर्मिंदगी महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि गौरव ने मेरा भला किया था, बुरा नही किया था। गौरव से मुझे कोई शिकायत नहीं है। वह अब भी आएंगे, तो उनका सम्मान वो करेंगे।

गौरव को मिलने के लिए बोल रहे है बाबा।

बाबा ने कहा है कि उन्होंने जानबूझकर उनका दिल नहीं दुखाया। अगर अनजाने में उनका दिल दुखा है, तो उन्हें जो सजा मिलनी चाहिए, मिले। उनसे कहीं न कहीं चूक हुई है। बाबा कहते हैं कि मुझसे चूक यहां पर हुई कि मैंने कहा, हमने गौरव वासन को नहीं बुलाया, गौरव वासन अपने आप आए थे। उस चूक के लिए हम शर्मिंदा हैं। वो अब चाहते हैं कि गौरव उनसे जुड़ें। वह उनसे पहले की तरह ही मिलेंगे। वो उनकी राह देख रहे है ।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -