13.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

कोचिंग, ट्यूशन के इस भेड़-चाल के बीच मुकुंद सेल्फ स्टडी से ही बन गए IAS: जानें उनके टिप्स

बहुत लोग UPSC पास करके देश की सेवा करना चाहते हैं। किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए सेल्फ स्टडी करना बहुत जरूरी है। कई लोगो का मानना है कि UPSC में सफलता के लिए कोचिंग और ट्यूशन ज्वाइन करना आवश्यक है। लेकिन आज हम आपको जिस शख्स के बारे में बताएंगे उन्होंने इस बात को गलत साबित कर दिया। वो सिर्फ सेल्फ स्टडी करके ही IAS ऑफिसर बन गए।

IAS मुकुंद कुमार

IAS मुकुंद कुमार का जन्म बिहार के मधुबनी जिले के एक किसान परिवार में हुआ। उनकी मां प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका थी। मुकुंद जब 5वीं कक्षा में थे तभी उन्होंने IAS और PCS के बारे में सुना था। आगे चलकर उन्होंने इसके बारे में जानकारी इकट्ठा किया और फिर इसे ही अपना लक्ष्य बना लिया।

ग्रेजुएशन के लिए दिल्ली गए

मुकुंद ने 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई असम से पूरा किया और आगे की पढ़ाई करने के लिए दिल्ली चले गए। दिल्ली में उन्होंने इंग्लिश सब्जेक्ट से ग्रेजुएशन किया। उस समय उनकी उम्र UPSC परीक्षा में बैठने लायक नहीं हुई थी फिर भी वो इसकी तैयारी करने लगे। वो अपनी तैयारी के दौरान 12 से 14 घंटा तक पढ़ाई करते थे और सोशल मीडिया से दूर रहते थे।

सेल्फ स्टडी ही करते थे

मुकुंद दिन रात एक करके कड़ी मेहनत किया करते थे। उन्होंने किसी तरह का कोचिंग संस्थान या ट्यूशन ज्वाइन नहीं किया था क्योंकि उनकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि वो कोचिंग के पैसे दे पाएँ। इसलिए वो सिर्फ सेल्फ स्टडी ही किया करते थे। 2019 में मुकुंद पहली बार में ही UPSC 54वीं रैंक से पास कर गए। उस समय उनकी उम्र महज 22 साल ही थी।

दूसरे प्रतिभागियों के लिए उनके टिप्स

पहली बार में ही UPSC परीक्षा पास करके मुकुंद खुद को भाग्यशाली समझते हैं। मुकुंद ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि UPSC पास करने के लिए टाइम टेबल बनाना बहुत जरूरी है। यदि हम कड़ी मेहनत करेंगे तो हमें सफलता ज़रूर मिलेगी।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -