17.1 C
New Delhi
Wednesday, December 1, 2021

देशी नुस्खे से ऐसे करें डुप्लीकेट घी की पहचान, जानिए शुद्ध और अशुद्ध घी के बीच का अंतर

घी (Ghee) शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है इसीलिए लोग खाने में घी का प्रयोग करते है। आज कल बाजार में अशुद्ध घी भी बिकने लगी है जो हमारे शरीर को बुरी तरह प्रभावित करते है। बाजार में अशुद्ध घी के बिकने से शुद्ध और अशुद्ध घी की पहचान कर पाना अत्यंत मुश्किल हो गया है। इसीलिए घी को खाने में लाने से पहले उसकी शुद्धता की पहचान करना अति आवश्यक है।

आज हम आपको घी की शुद्धता की पहचान करने के लिए कुछ नुस्खे बताएंगे, आप इन नुस्खों का प्रयोग कर घी की शुद्धता की पहचान कर सकते है। Desi hacks to check the purity of ghee

घी (Ghee) को आग पर पिघला कर

शुद्ध घी की पहचान करने के लिए एक चम्मच घी को आग पर अच्छी तरह से पिघला लें। अगर पिघलने के बाद घी का रंग हल्का भूरा (Brown) लगे तो समझ ले कि घी शुद्ध है और पिघलने के बाद अगर घी का रंग हल्का पीला (Yellow) लगे तो घी अशुद्ध है।

शुद्ध घी की खुशबू से

शुद्ध घी की पहचान उसकी खुशबू से भी होती है। थोड़ा सा घी अपने हाथों में लेकर दोनों हाथों में अच्छी तरह से मिला ले और 7-8 मिनट के बाद अपने हाथों को सूँघे अगर हाथ से घी वाली खुशबू आती है तो घी शुद्ध है और कुछ अलग महक लग रही है तो समझ ले कि घी अशुद्ध है।

घी को पानी में डालकर

शुद्ध घी की पहचान के लिए एक ग्लास पानी में एक चम्मच घी डालें, अगर घी पानी के ऊपरी स्तर पर तैरने लगे तो समझ ले कि घी शुद्ध है और अगर घी पानी के निचले स्तर पर जाकर बैठ जाए तो घी अशुद्ध है।

दानेदार घी की खुशबू से

शुद्धता की पहचान के लिए घी को एक बर्तन में रख कर गर्म कर ले और उस घी को 24 घंटे के लिए छोड़ दें, 24 घंटे के बाद वह घी दानेदार हो और घी वाली खुशबू हो तो घी शुद्ध है या घी चिकनी हो, किसी और प्रकार की महक हो तो फिर घी अशुद्ध है।

घी में हाइड्रोक्लोरिक एसिड (Hydrochloric acid) डाल कर

घी की शुद्धता परखने के लिए एक चम्मच में घी 1 चम्मच चीनी और थोड़ी मात्रा में हाइड्रोक्लोरिक एसिड (Hydrochloric acid) मिला दे यह मिक्सचर मिलाने के बाद अगर घी का रंग लाल (Red)हो जाए तो घी शुद्ध है अन्यथा अशुद्ध।

घी की पहचान के लिए आयोडीन सॉल्यूशन (iodine solution) मिलाये

शुद्ध घी को पहचानने के लिए घी में आयोडीन सॉल्यूशन (iodine solution) मिलाएं अगर घी का रंग भूरा (Brown) हो जाए तो घी पूरी तरह शुद्ध है लेकिन इसे घी में मिलाने के बाद घी का रंग बैगनी (Violet) हो जाए तो घी में मिलावट है।

यह भी पढ़ें: ‘दिल्ली मेट्रो में फर्श पर न बैठें’, ऐसा अनाउंसमेंट तो आपने खूब सुना होगा, आज जानिए इसका कारण

इस्तेमाल से पहले कर ले जांच

इन तमाम नुस्खों से आप शुद्ध और अशुद्ध घी की पहचान कर सकते हैं। आज-कल मार्केट में कई प्रकार के रसायन का भी इस्तेमाल करके घी बनाये जा रहे हैं, जिसे उपयोग में लाने से शरीर में अलग-अलग प्रकार के साइड इफेक्ट (side effect) हो सकते है इसीलिए घी को उपयोग करने से पहले उसकी शुद्धता की पहचान अवश्य करें ले।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -

Latest Articles