13.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

पिता करते हैं खेती के साथ टायर पंचर की दुकान: बेटे ने बनाई बैटरी वाली मोटरसाइकिल

हुनर तो किसी में भी हो सकता है चाहे वह अमीर हो या गरीब, क्योंकि भगवान हुनर अमीर और गरीब देखकर नहीं देते वह इंसान देख कर देते हैं। कोई ना कोई हुनर तो सबके अंदर होता है बस उसे निखारने की जरूरत है परंतु आज की दुनिया में हर कोई अपने हुनर को पहचानने में कामयाब है।

आज हम एक ऐसे लड़के के बारे में जानेंगे जो अपने हुनर के बदौलत जाना जाता है। यूपी के मिर्जापुर के रहने वाले नीरज मौर्य बैटरी से चलने वाली मोटरसाइकिल बनाए हैं। जो एक बार चार्ज कर देने पर 50 किलोमीटर तक चल सकता है। नीरज मिर्जापुर में ही पंचशील डिग्री कॉलेज मवाई कला से b.a. की पढ़ाई कर रहे हैं। नीरज के पिता टायर पंचर ठीक करने का काम करते हैं और साथ ही खेती भी करते हैं।

नीरज को बैटरी वाला मोटरसाइकिल बनाने में करीब एक महीना का समय लगा। नीरज का परिवार आर्थिक रूप से बहुत ही खराब था, इसीलिए नीरज को बैटरी खरीदने के लिए पैसे नहीं थे। लेकिन नीरज दुर्गा पूजा के समय मूर्ति बनाकर पैसे इकट्ठे किया उससे उसे जो भी पैसे मिले वह उससे बैटरी खरीदने में लगा दिया।

नीरज द्वारा बनाई गई मोटरसाइकिल में बैक गियर भी है जिससे मोटरसाइकिल पीछे भी जा सकती है। बैटरी वाली मोटरसाइकिल तैयार करने में नीरज को लगभग 30 हज़ार रू लग गए। नीरज का सपना है कि वह कोई ऐसा मोटरसाइकिल बनाएं जिससे पर्यावरण की प्रदूषण की समस्या खत्म हो जाए।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -