17.1 C
New Delhi
Wednesday, February 8, 2023

गेट परीक्षा 2021 के टॉपर्स बता रहे हैं सफलता के मंत्र: GATE 2021

गेट परीक्षा 2021 के टॉपर्स बता रहे हैं सफलता के मंत्र: GATE 2021

हम सभी को परीक्षा देने के बाद उसके परिणाम का इंतजार रहता है। हममें से कुछ बच्चे टॉपर बनकर अपने स्कूल, कॉलेज, देश और परिवार का नाम रोशन करते है, तो कुछ असफल होते है।

हम आज आपको एक ऐसे छात्र के बारे में बता रहे है। जिन्होंने GATE(गेट) 2021 मे टेक्सटाइल एंड फाइबर साइंस ब्रांच मे टॉप सूची मे स्थान प्राप्त किया है। वे सभी पिछले साल यूपी के वस्त्र प्रौद्योगिक संस्थान (textile technology institute) की छात्रा है। इसी संस्थान के गरिमा पाल और अमित पांडे 10वीं तथा वैभव पवार 3वी स्थान पर है। वही मयूर कटियार पुरातन छात्रा 8वीं स्थान प्राप्त पर है। GATE परीक्षा पास करने के लिए सभी को बधाई दी गई।

सपना स्मार्टअप का.

वोक नगर की रहने तनिष्क अवस्थी जिसे ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने जानकारी दिया कि मुंबई के आईआईटी ( IIT) निर्देशक प्रो शुभशीष चौधरी ने रिजल्ट आने के लगभग 2 घंटे पूर्व हमें बधाई दी। जब इस बात की जानकारी मेरी माता रश्मि अवस्थीअवस्थी को मिली तो उनकी आंखें खुशी से भर गए। उनके माता-पिता हाउसवाइफ एम एम बिजनेसमैन है। वाह एमटेक करने की ख्वाहिश अब आईआईटी(IIT) इंजीनियरिंग मुंबई से रखते हैं। उनका स्टार्टअप का भी सपना है।

सफल होने की उम्मीद थी.

वैभव सिंह को पूरी उम्मीद थी की मै जरूर सफल होऊंगा। जो कि राजपुर नगर के रहने वाले है। कुलदीप उनके पिता है। उनके पिता गवर्नमेंट स्कूल में टीचर है। नीतू रघुवंशी उनकी मां है, वाह एक हाउसवाइफ है। वैभव को पेमेंट करने की इच्छा मुंबई के इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग ऑपरेशन रिसर्च से है। अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद उसकी चाह वैज्ञानिक बनने की है।

सफलता पहली बार में मिली.

गरिमा पाल जो बरेली की रहने वाली है। कितने रुपए कमाए अटैक करने की ख्वाहिश आईआईटी(IIT) मुंबई या कानपुर से रखती है। उनका सपना है कि वह बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी करे। उनके माता का नाम मूलता एवं पिता का नाम पूरन लाल है। उनके पिता प्राइवेट नौकरी करते हैं। माता हाउसवाइफ है। गरिमा ने पहली बार में ही सफलता प्राप्त की है।

भाई का सहयोग.

अमित पांडे की आईआईटी(IIT) मुंबई या दिल्ली से एमटेक करने की ख्वाहिश है। जिनका घर देवरिया में है। उनके पिता की मृत्यु हो चुकी है, जिनका नाम जगत नारायण है। उनकी माता माया पांडे हाउसवाइफ है। उनके बारे भाई आशुतोष पांडे को पर उनकी पढ़ाई की सारी जिम्मेदारी है।अमित अपने घर की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए एमटेक करने के बाद अपने भाई का सहयोग करना चाहता है। उन्होंने पॉलिटेक्निक मऊ से किया है।

वैदिक ज्ञान सभी छात्रों को अपने परिश्रम से सफलता प्राप्त करने के लिए बधाई देती है.

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -