17.1 C
New Delhi
Tuesday, November 30, 2021

3 बार मिली असफलता, परीक्षा के समय हो गयी क’रोना संक्रमित, फिर भी निकाली UPSC: Ankita jain

ऊंचे मुकाम को पाने के लिए कठिन परिश्रम एवं आत्मनिर्भरता का होना आवश्यक है। आज हम आपको एक महिला के बारे में बताएंगे, जिन्होंने अपने कठिन परिश्रम से UPSC परीक्षा में पूरे भारत में तीसरा स्थान प्राप्त कर परचम लहराया।

कठिन परिश्रम से मिली सफलता

दिल्ली की अंकिता जैन (Ankita Jain) ने UPSC में तीसरा स्थान प्राप्त कर अपने परिवार एवं देश का सर गर्व से ऊंचा कर दिया। पिछली प्रयासों में कुछ विषयों की अच्छे से तैयारी न होने की वजह से उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा। लेकिन इस बार उन्होंने कमजोर विषयों पर खास ध्यान देकर पूरी तैयारी के साथ अपने चौथे प्रयास में सफलता हासिल प्राप्त की।

तीसरा स्थान प्राप्त कर मिली सफलता

अंकिता जैन महज़ 28 वर्ष की आयु में UPSC परीक्षा पास कर तीसरा स्थान प्राप्त की। इससे पहले उन्हें तीन बार असफलता का भी सामना करना पड़ा था। उन्होंने अपनी पढ़ाई दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी (Delhi technological university) से पूरी की है। अपनी चौथी प्रयास में UPSC में तीसरा स्थान प्राप्त कर उन्होंने यह साबित कर दिया कि लड़कियां लड़कों से कम नहीं है। इनकी शादी अभिनव त्यागी (Abhinav tyagi) से हुई है। वह मुंबई में IPS ऑफिसर के तौर पर कार्यरत हैं। वर्तमान में अंकिता जैन अकाउंट सर्विस ऑफिसर के तौर पर मुंबई में पोस्टेड है।

क’रोना संक्रमित होने पर भी तैयारी में जुटी रही

अंकिता जैन 2020 के UPSC मेन्स परीक्षा के तैयारी के समय अचानक से क’रोना संक्रमित हो गई थी फिर भी वह परीक्षा की तैयारी के लिए दिन-रात एक करके जुटी रही। उनके परिवार वालों ने उन्हें क’रोना संक्रमण के दौरान पढ़ाई जारी रखने में बहुत सहयोग दिया।

अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए लिया ऑनलाइन का सहारा

अंकिता जैन ने क’रोना काल में लगे लॉ’कडाउन में भी अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए ऑनलाइन माध्यम का सहारा लिया।

यह भी पढ़ें: दो बार नहीं निकाल पायी UPSC का प्री, तीसरी बार में Interview में टॉपर बनकर पायी ऑल इंडिया 9th रैंक: Dr Apala Mishra

अंकिता जैन ने UPSC कैंडिडेट को दिया मशवरा

UPSC के कैंडिडेट अभ्यर्थियों के लिए अंकिता जैन का कहना है कि अगर कोई अकेला नहीं पढ़ना चाहता है तो अपनी पढ़ाई के लिए वह ग्रुप बना ले और ऑनलाइन से बातचीत करते हुए पढ़ाई करें। पढ़ाई के लिए ईधर-उधर ना भटके और सही तरीके से पढ़ाई करें।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -

Latest Articles