करोना लॉकडाउन भी नहीं तोड़ पाया लगन और हौसला, कड़ी मेहनत कर UPSC परीक्षा में पाई तीसरी रैंक: Ankita Jain

किसी भी विद्यार्थी के जीवन में परीक्षा की घड़ी बहुत ही महत्वपूर्ण होती है।

इस समय शांत मन से पढ़ाई करना और परीक्षा में सफल होना बहुत ज़रूरी होता है। परीक्षा के समय की गई चूक से किसी छात्र का पूरा साल बर्बाद हो जाता है, तो कोई छात्र प्रतियोगिता परीक्षा से बाहर हो जाता है। आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताएंगे जिन्होंने अपने मेहनत के बदौलत यूपीएससी में तीसरा स्थान प्राप्त किया। आइये जानते हैं उनके बारे में।

अंकिता जैन का परिचय

अंकिता जैन (Ankita Jain) दिल्ली की रहने वाली हैं। उनके पति एक भी एक IPS अधिकारी हैं। कम उम्र से ही उनका सपना IAS अधिकारी बनने का था। अंकिता एक अच्छी छात्रा थी और उन्होंने इंटर के बाद दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से B.Tech की डिग्री हासिल की, जिसके बाद उन्हें एक कंपनी में नौकरी मिल गई और कुछ समय काम करने के बाद उसने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी और आईएएस अफसर बनकर ही दम लिया।

परिवार का मिला सहयोग

अंकिता जैन (Ankita Jain IAS) के पति ने उन्हें काफी सहयोग किया। उन्होंने उन्हें परीक्षा से जुड़ी उन सभी चीजों में सहायता की जो अंकिता चाहती थीं। यही कारण रहा कि अंकिता की तैयारी बहुत अच्छे से हो सकी। उनके पति ने उन्हें नोट्स बनाने के लिए भी प्रेरित किया। पति के सहयोग से ही वह अपने मुकाम को हासिल कर पाईं।

कोविड की शिकार हुईं

कोरोना के प्रकोप ने अंकिता को भी नही छोड़ा। यूपीएससी 2020 (UPSC 2020) के मेन्स परीक्षा के एक महीने पहले अंकिता कोविड 19 का शिकार हो गईं। फिर भी उन्होंने हिम्मत नही हारी। वह लगातार मेहनत करती गईं। UPSC 2020 में अंकिता जैन ने इस परीक्षा को पास किया। उन्होंने इस परीक्षा को अपने चौथे प्रयास में पास करके टॉप दस में अपनी जगह बनाई।

यह भी पढ़ें: जानिये भारत की इस युवा अफसर को, जिन्होंने UN में पाकिस्तान को उसी के भाषा में धो डाला: Sneha Dubey

परिवार के लोग भी है अधिकारी

अंकिता जैन के पति अभिनव त्यागी महाराष्ट्र कैडर में आईपीएस अधिकारी हैं और उनकी बहन वैशाली ने भी 21वीं रैंक हासिल की है। ऐसे परिवार का हिस्सा होने के बाद भी अंकिता ने कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ अपने सपने को पूरा किया। उन्होंने अपने कमजोरियों को पहचाना और उसपे काम करना शुरू किया। आज उसी का परिणाम है कि अंकिता ने सफलता हासिल कर अपने साथ अपने परिवार का मान और बढ़ाया है।

अंकिता जैन की जितनी तारीफ की जाए कम है। आज वह अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणा हैं।

शेयर जरूर करें:-

By Medha Pragati

मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।