17.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

हरियाणा के मंत्री अनिल विज से दो बार भिड़ चुकी हैं ये ‘लेडी सिंघम’, बदले में मिली है ट्रांसफर की सौगात

एक आईपीएस अधिकारी सरकार का अभिन्न अंग होता है। अतः उसे अपने व्यवहार में तटस्थ और निष्पक्ष होना चाहिए। एक सरकारी कर्मचारी के रूप में उसका पहला और महत्वपूर्ण कर्तव्य लोगों की सेवा करना है। आज हम आपको एक ऐसे ही लोकप्रिय महिला आईपीएस अधिकारी के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपने कड़े निर्णय के लिए जानी जाती हैं। उनका हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से दो बार विवाद भी हो चुका है। आइये जानते है उनके बारे में।

IPS संगीता कालिया का परिचय।

संगीता कालिया हरियाणा के भिवानी जिले की रहने वाली हैं। उनका जन्म एक साधारण मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था। उनके पिता धर्मपाल पुलिस विभाग में कारपेंटर थे। संगीता बचपन से पढ़ने में काफी तेज थीं। उन्हें हरियाणा में IPS कैडर मिला। संयोग ऐसा रहा ट्रेनिंग के बाद उन्हें उसी जिले का SP बनाया गया जहां कभी उनके पिता कारपेंटर हुआ करते थे।

संगीता के पिता उन्हें अफसर बनाना चाहते थे।

संगीता के पिता फतेहाबाद पुलिस में कारपेंटर थे। वह 2010 में वहां से रिटायर हुए। संगीता की पढ़ाई भिवानी से ही हुई। संगीता के पिता धर्मपाल भले ही कारपेंटर थे लेकिन वह बेटी को पढ़ाकर अफसर बनाना चाहते थे। बेटी ने भी पिता के सपनो को साकार किया।

यह भी पढ़ें: डूबते व्यक्ति की जान बचाने वाले SI आशीष कुमार को मिला पुरस्कार, जानिए SP ने क्या कहा तारीफ में

संगीता ने अपनी 6 नौकरियां छोड़ी।

संगीता पढ़ाई पूरी करने के बाद सिविल सर्विस की तैयारी में जुट गई। उन्होंने पहली परीक्षा 2005 में दिया। उसमे वह चयनित नहीं हो पाई। उसके बाद उन्हें रेलवे में नौकरी मिली। लेकिन उनका सपना सिर्फ सिविल सर्विस एग्जाम पास करने का था। इस तरह उन्होंने एक-एक करके 6 नौकरियां छोड़ दीं। साल 2009 में संगीता ने फिर से UPSC का परीक्षा दिया। इस बार वह सफल रहीं।

बीजेपी नेता अनिल विज से दो बार हुआ विवाद।

संगीता कालिया तब चर्चा में आईं जब वर्ष 2018 में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से उनका विवाद हुआ। अनिल विज फतेहाबाद में कष्ट निवारण समिति की बैठक ले रहे थे। नशे की बिक्री संबंधित एक शिकायत पर विज ने संगीता कालिया से जवाब मांगा। तब संगीता कालिया ने जवाब दिया कि हमने शराब तस्करों पर साल में ढाई हजार मामले दर्ज कर दिए हैं। पुलिस किसी को गोली तो मार नहीं सकती। इसी बात पर विज व संगीता कालिया के बीच कहासुनी हुई, जिसके बाद बैठक बीच में ही रोकनी पड़ी थी। इस विवाद के बाद संगीता कालिया का तबादला रेवाड़ी से पानीपत हुआ। पानीपत आने के बाद एक बार फिर संगीता अनिल विज से भिड़ गईं । पानीपत में करीब दो माह रहने के बाद उनका फिर ट्रांसफर कर दिया गया। भिवानी और पानीपत में रहने के बाद अब संगीता कालिया फिलहाल रेलवे में बतौर एसपी तैनात हैं।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -