23.1 C
New Delhi
Thursday, February 2, 2023

होटल मालिक बड़ी चालाकी से आपको बनाते हैं बेवकूफ, इन 9 तरीकों को जानकर बनें होशियार

9 ऐसी बाते हैं जो होटल वाले आपको कभी नहीं बताएंगे और खुद आप कभी पता लगा नहीं पाएंगे। आइये जानते हैं इन बातों को।

आधे मूल्य पर कमरा बुक कर सकते हैं आप

होटल खाली बचे हुए रूम सस्ते में दे देते हैं। वो कभी भी कमरे का किराया सार्वजनिक नहीं करते, क्योंकि कई बार उन्हें ऐसे ग्राहक मिल जाते हैं, जो कि कमरे के लिए पूरा पैसा देने को तैयार रहते हैं। अगर आप ग़ौर करें, तो पाएंगे कि कई वेबसाइट्स पर आपको कमरों का विज्ञापन बिना होटल के नाम लिखा हुआ मिलता है। वहीं जैसे ही कमरे की बुकिंग के लिए पेमेंट कर देते हैं, तो उसके तुरंत बाद होटल का नाम सामने आ जाता है। साथ ही ग्राहक को सिर्फ़ होटल 3, 4 स्टार वाला दिखता है। ऐसे में आपको जहां रुकना है, उसी जगह का चुनाव कर पाते हैं। इसके अलावा बुकिंग के बाद रिज़र्वेशन कैंसल करना भी मुमकिन नहीं है।

बुकिंग के समय कर सकते हैं बार्गेनिंग

होटल लगभग 30 प्रतिशत तक किराया कमीशन में देते हैं। इसीलिए अगर कोई भी व्यक्ति सीधे होटल को कॉल करता है या वहां पहुचंता है, तो उसे किराये में छूट मिल सकती है। ख़ासकर तब जब उस एरिया में होटल की संख्या कम हो।

मुफ़्त सेवाएं

होटल में चेक इन करते वक्त फ़्री सेवाओं की जानकारी लेना न भूलें, क्योंकि किसी भी होटल में बोतलबंद पानी, प्रेस, हेयर स्टाइलिंग, फ़ोन चार्जर और बोर्ड गेम जैसी कई सेवाएं मुफ़्त दी जाती है। इतना ही नहीं, कुछ होटल्स में तो टैक्सी सेवा तक फ़्री होती है। इसके अलावा कई होटल ऐसे होते हैं जहां आप किसी कंसर्ट का टिकेट या रेस्त्रां में टेबल बुक करवा सकते हैं।

बिना परमिशन आपको दूसरे होटल में भेज सकते हैं

होटल्स अकसर ग्राहकों को अधिक से अधिक बुकिंग के लिए प्रेरित करते हैं। ऐसे में कई बार वो सीमा से अधिक बुकिंग कर लेते हैं, ताकि अगर इंसान बुकिंग कैंसल भी करता है तब भी कमरा भरा रहे। वहीं इस दौरान अगर वो आपसे किसी दूसरे होटल में शिफ़्ट होने को कहते हैं, तो आप मंहगे कमरे या फिर फ़्री घुमने की डिमांड कर सकते हैं।

हमेशा साफ़ नहीं होता है कमरा

ऐसा संभव नहीं है कि कमरे में आपसे पहले कोई गेस्ट न ठहरा हो, इसीलिए चेक इन करते समय कमरे को अच्छी तरह जांच लें कि वो साफ़- सुथरा है या नहीं।

सभी कमरे नहीं होते एक जैसे

होटल्स के जानकार बताते हैं कि लगभग हर होटल में कमरे अलग तरह के होते हैं। हर रुम अपने आप में बेहद विशेष होता है। जैसे कि किसी कमरे का बाथरूम बड़ा होता है, तो किसी का खिड़की से नज़ारा अच्छा दिखता है। इसलिए अगर ज़रूरत हो तो रिसेप्शन पर बैठे व्यक्ति को कुछ रूपए देकर उससे पता कर सकते हैं कि कौन सा कमरा सस्ता और बेहतर व्यू वाला है।

यह भी पढ़ें: बियर के ऊपर फोम क्यों जमती है और इस फोम को क्या कहते हैं? जानिए बियर से जुड़ी 10 रोचक बातें

रिसेप्शन वाले आपको उसी प्रतिष्ठान का सुझाव देंगे जहां से उन्हें पैसे मिलते हैं।

जब भी आप किसी होटल में रुकेंगे, तो पाएंगे कि रिसेप्शन पर मौजूद लोग आपको उसी जगह की जानकारी देंगे जहां से उनकी ज़्यादा कमाई होती है। उन्हें आपकी पसंद और नापसंद से नही बल्कि अपने मुनाफ़े से मतलब होता है। ऐसे में आप आस- पास के लोगों या फिर इंटरनेट की मदद ले सकते हैं।

ज़रूरत पड़ने पर शिकायत अवश्य करें

अगर आपको अपने कमरे में कोई भी दिक्कत होती है, तो उसे नज़रअंदाज़ न करें, बल्कि तुंरत उसकी शिकायत करें। क्योंकि होटल सर्विस ये कभी नहीं चाहेगी कि उसके ग्राहक नाराज़ होकर वहां से बाहर जाएं। इसलिए वो पहले आपका कंफ़र्ट देखेंगे और अच्छी सेवा देने की कोशिश करेंगे।

कमरे के मिनी सेफ़ पर न करें भरोसा

होटल के कमरे में मौजूद मिनी सेफ़ पर भरोसा न करें और बात जब बेशकीमती सामान की हो तो बिल्कुल नहीं। अगर उन्हें होटल में रखना है तो रिसेप्शन की मदद लें। वो उसे होटल के सेफ़ में रख देगा और आपको उसकी रसीद देगा।

Sunidhi Kashyap
Sunidhi Kashyap
सुनिधि वर्तमान में St Xavier's College से बीसीए कर रहीं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ सुनिधि अपने खूबसूरत कलम से दुनिया में बदलाव लाने की हसरत भी रखती हैं।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -