17.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

हादसे में गंवा दिया एक पैर, आज एक पैर से डांस करके ‘वन लेग डांसर’ के नाम से हुई मशहूर: Subhreet kaur

इंसान अपनी हिम्मत के बदौलत ही आगे बढ़ता है। कभी भी हमें अपनी असफलताओं से हार नहीं माननी चाहिए। आज हम आपको सुभरीत कौर (Subhreet kaur) के बारे में बातएगें। उन्होंने अपने मुश्किल से मुश्किल समय में भी हार मानना नहीं सीखा। आइये जानते है वन लेग डांसर सुभरीत कौर के बारे में (One Leg Dancer Subhreet kaur)

सुभरीत कौर (Subhreet kaur) का परिचय

सुभरित कौर (Subhreet kaur) बचपन से ही डांस में पारंगत थी और आगे भी वह डांस ही करना चाहती थी। लेकिन उनके साथ एक बहुत ही बड़ा हादसा हो गया। 2009 में कॉलेज से अपने घर लौटते वक्त उनका एक्सीडेंट हो गया। एक्सीडेंट की वजह से सुभरीत के पैर में इन्फेक्शन हो गया जिसकी वजह से उनके पैर को काटकर उनके शरीर से अलग करना पड़ा। उनके सुखी एवं खुशहाल जीवन में यह दुख उनके लिए असहनीय था।

कमजोरी को बनाया ताकत

सुभरीत कौर (Subhreet kaur) के लिए वह वक्त उनके ऊपर आसमान टूटने जैसा था। सुभरीत अपनी चुनौतीपूर्ण जिंदगी को पटरी पर लाने के लिए प्रयास करने लगी। अपने कटे हुए पैर को देखकर उनको ऐसा महसूस होने लगा कि वह अब कभी डांस नहीं कर पाएगी, उनका सपना टूट गया। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद जब सुभरीत अपने घर लौटी तब अपने आप को असहाय महसूस करने लगी लेकिन फिर उनके मन में ख्याल आया कि ऐसे असहाय होने से जिंदगी नहीं कटेगी। अपने इस कमजोरी को हिम्मत के साथ दूर करना होगा। सुभरीत ने अपने एक पैर की मदद से डांस करने की प्रैक्टिस करने लगी।

यह भी पढ़ें: माँ तुझे सलाम: छोटे बच्चे को पेट से बांधकर ऑटो चलाती है ये बहादुर माँ, सोशल मीडिया पर लोग कर रहे तारीफ

एशिया गॉट टैलेंट (Asia got talent) का हिस्सा बनी।

सुभरीत एक पैर से ही डांस का प्रेक्टिस करने लगी। धीरे-धीरे उन्हें अपने आप पर भरोसा होने लगा कि वह एक पैर से भी डांस कर सकती है फिर क्या था उन्होंने बेस्ट डांस एकेडमी चंडीगढ़ (Best dance academy chandigarh) में अपना दाखिला कराया। हिम्मत से आगे बढ़ने वालों के आगे भगवान को भी झुकना पड़ता है, कुछ ऐसा ही हुआ सुभरीत के साथ। टीवी शो झलक दिखलाजा (Jhalak dikhlaja) और एशिया गॉट टैलेंट (Asia got talent) में उन्हें भाग लेने का मौका मिला। सुभरीत की मेहनत रंग लाई और रियलिटी शो में उन्हें दुनिया की पहली वन लेग डांसर (One leg dancer) का पहचान मिला।

जिम जॉइन कर ख़ुद को किया फिट

सुभरित ने एक्सीडेंट के एक वर्ष बीतने के बाद ही अपने आप को फिट रखने के लिए जिम ज्वाइन कर लिया था, जिससे उनकी मांसपेशियों में भी मजबूती आई और स्टेमिना भी बढ़ा। अब सुभरीत का शरीर बिल्कुल फिट है। पिछले साल पति से तलाक होने के बाद वह काफी निराश हुई थी और अपने शरीर पर ध्यान देना छोर दिया था। जिस कारण उनका वजन काफी बढ़ गया था। लेकिन जब उन्हें अपने बढ़े हुए वजन का ख्याल आया तब इसे कम करने के लिए हिम्मत जुटाकर कड़ी मेहनत करते हुए 20 किलो वजन कम करने में सफल रही।

सोशल मीडिया पर मिली पहचान

एक पैर से ही डांस करके सोशल मीडिया (Social media) के माध्यम से ऐसे लोगों की सोच में सकारात्मकता लाना चाहती है जो किसी कारण बस अपने जीवन के जंग में हार चुके हैं और अपने सपनों को भूल चुके हैं। सुभरीत कौर के हिम्मत की जितनी भी तारीफ की जाए उतनी कम है।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -