17.1 C
New Delhi
Wednesday, February 8, 2023

ये मुक्केबाज घर चलाने के लिए पार्किंग में बेच रही है टिकट, शेयर कर सरकार तक पहुंचाएं आवाज़

एक तरफ तो देश की बेटियाँ बड़े-बड़े कार्य करके देश का नाम रौशन कर रही हैं, वहीं दूसरी तरफ कई लड़कियाँ ऐसी भी हैं जो देश के लिए बहुत कुछ करना चाहती हैं लेकिन जीवन की परिस्थिति खराब होने के कारण कर नहीं पाती हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही देश की बेटी के बारे में बताएंगे, जिन्होंने मजबूरी की वजह से अपने सपनों को अधूरा छोड़ दिया।

मुक्केबाज रितु चंडीगढ़ की रहने वाली हैं। पिता की तबियत खराब रहने के कारण उन्हें अपना खेल अधूरा ही छोड़ना पड़ा। किसी प्रकार की कोई मदद न मिलने के कारण मजबूरीवश उन्हें अपने परिवार को चलाने के लिए इन दिनों पार्किंग में टिकट बेचने का काम करना पड़ रहा है। चूंकि उन पर उनके परिवार की जिम्मेदारी है इसीलिए वह अपने सपनों को पूरा नहीं कर पा रही हैं। उन्हें सरकार पर पूरा भरोसा था कि सरकार उनकी मदद जरूर करेगी लेकिन उन्हें निराश हो होना पड़ा।

यह भी पढ़ें: मीराबाई चानू: लकड़ी का गट्ठर उठाते-उठाते कैसे करोड़ों भारतीयों के दिल में बस गईं

एक समाचार एजेंसी को रितु ने बताया कि वह राष्ट्रीय स्तर पर भी कई मैच खेल चुकी हैं। उन्होंने कई सारे मेडल भी जीते हैं। खेल में घरवालो ने उनका बहुत सहयोग किया लेकिन जब उनके परिवार पर मुसीबत आई तब वो मेडल उनके कोई काम नहीं आया। उन्हें किसी प्रकार की संस्था से किसी प्रकार का समर्थन या छात्रवृत्ति नहीं दिया गया।

जैसा कि आपको पता है कि अभी अभी समाप्त हुए टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों ने ऐतिहासिक प्रदर्शन किया है। ऐसे समय मे रितु जैसी खिलाड़ियों के मनोबल को बढ़ाना भी सरकार की ज़िम्मेदारी है। हम आशा करते हैं कि सरकार जल्द से जल्द रितु का संज्ञान लेगी और रितु की मदद करेगी।

Sunidhi Kashyap
Sunidhi Kashyap
सुनिधि वर्तमान में St Xavier's College से बीसीए कर रहीं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ सुनिधि अपने खूबसूरत कलम से दुनिया में बदलाव लाने की हसरत भी रखती हैं।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -