17.1 C
New Delhi
Wednesday, February 8, 2023

भारत की एक और बेटी ने रचा इतिहास, कल्पना चावला के बाद सिरिशा बांदला जायंगी अंतरिक्ष यात्रा पर

कल्पना चावला अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली पहली भारतीय महिला थी। उन्होंने इतिहास रचा था। अब भारत की एक और बेटी अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली है। सिरीशा बांदला अंतरिक्ष में जाने वाली दूसरी भारतीय महिला बनने वाली है। आइये उनके बारे में पूरी जानकारी लें।

सिरीशा बांदला का जन्म तेनाली गुंटुर आंध्र प्रदेश में हुआ था। 5 वर्ष की आयु में सिरीशा अपने माता-पिता के साथ अमेरिका चली गई थी। उनके पिताजी का नाम डॉ. मुरलीधर बांदला है, वह एक साइंटिस्ट है। सिरीशा अमेरिका के “यूस्टस टैक्सेस” में पली-बढ़ी है। उन्होंने अमेरिका के purdue विश्वविद्यालय से एस्ट्रोनॉटिकल इंजीनिरिंग में ग्रेजुएशन किया। फिर उन्होंने एमबीए की डिग्री Georoge वाशिंगटन विश्वविद्यालय से प्राप्त किया।

यह भी पढ़ें: माउंट एवरेस्ट की उंचाई भी नहीं रोक पाई! 5 दिनों में 2 बार की चढ़ाई, पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया

डिग्री प्राप्त करने बाद सिरीशा ने कई जगह पर काम किया। पहला काम उन्होंने कमर्शियल स्पेस फ्लाइट फेडरेशन एवं एएल 3 कम्यूनिकेशन में एयरोस्पेस इंजीनियर के तौर पर काम करना शुरू किया। अमेरिका के एस्ट्रोटिकल सोसाइटी और फ्यूपरस्पेस लीडर फाउंडेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के सदस्य के रूप में सिरीशा बांदला ने कार्य किया। सिरीशा ब्रेनसन के विशेष अंतरिक्ष यान में वर्जिन गैलेक्टिक यूनिटी द्वारा भरी जाने वाली अंतरिक्ष उड़ान भरेगी।

सिरीशा 11 जुलाई को आकाश की उड़ान भरने जा रही है। इस मिशन में रिसर्चर के तौर पर 6 लोगो के साथ सिरीशा भी शामिल होकर उड़ान भरेगी। उन्होंने अपनी खुशी बया करते हुए ट्वीट करके कहा मैं बेहतरीन यूनिटी 22 की टीम का भाग बनकर अंतरिक्ष में उड़ने के लिए बहुत उत्साहित हू और कंपनी के साथ स्पेस में जाने के लिए तैयार हूँ।

यह भी पढ़ें: पिता ने कर्ज लेकर जुटाए थे प्लेन के टिकट के पैसे, आज बेटा है Google का CEO

मीडिया से बातचीत के दौरान सिरीशा के दादाजी ने कहा कि उनकी पोती जीवन में कुछ बड़ा करने के सपने हमेशा देखा करती थी। वह बचपन से ही निडर और एक्टिव थी। उन्हें उनके मेहनत का फल मिलने वाला है। उन्हें अपनी पोती पर गर्व है।

Sunidhi Kashyap
Sunidhi Kashyap
सुनिधि वर्तमान में St Xavier's College से बीसीए कर रहीं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ सुनिधि अपने खूबसूरत कलम से दुनिया में बदलाव लाने की हसरत भी रखती हैं।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -