17.1 C
New Delhi
Monday, January 30, 2023

घूमने का बना रहे हैं प्लान, तो इन 14 जगहों के बारे में ज़रूर जानिए: कम बजट में मिलेगा ज़बरदस्त मज़ा

आदिकाल से ही मनुष्य पर्यटन करता आ रहा है। जब हमारे पूर्वज खाने की तलाश में एक जगह से दूसरी जगह घूमते रहते थे, उनका पर्यटन खुद ही हो जाता था। आज हम सभी देश और विदेशों में पर्यटन के लिए जाते है। भारत में दिल्ली, आगरा, जयपुर, कोलकाता, शिमला, श्रीनगर, मसूरी, नैनीताल जैसी अनेक प्रसिद्ध जगहें हैं, जहाँ लोग पयर्टन के लिए जाते है।

अक्सर हम सभी अपनी रोज की जिंदगी से बोर हो जाते है। अपनी रोज की जिंदगी से बाहर निकलने के लिय लोग पर्यटन पर जाते है। इसमें मनोरंजन और आनन्द मिलता है। साथ ही देश दुनिया की नई जानकारी भी मिलती है। आज हम आपकों कुछ ऐसी जगहों के बारें में बताएंगे, जहां जाकर आपको शांति की प्राप्ति होगी। इन जगहों पर कम खर्च के साथ भरपूर सुकून मिलेगा। आइये जानते है इन जगहों के बारें में।

मेघालय की गुफाएं घूमने की जगह

मेघालय के पर्यटन स्थलों में कुछ अद्भुत और रहस्यमयी गुफाएं भी है। इन गुफाओं में मवसमाई गुफा चेरापूंजी के केंद्र से लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर है। भूलभुलैया की तरह इस गुफा में चमकती हुई रौशनी और अनगिनत पत्थर देखे जा सकते हैं। मावसई गुफा की लम्बाई 150 किलोमीटर है।

मुन्नार के चाय के बगान

मुन्नार दक्षिण भारत के केरल राज्य में स्थित एक खुबसूरत हिल्स स्टेशन है। जो अपने चाय के बागानों और प्राकृतिक सुन्दरता के लिए प्रसिद्ध है। मुन्नार में दक्षिण भारत का सबसे बड़े चाय का बागान है। इन्ही चाय के बागानों के कारण मुन्नार सबसे प्रसिद्ध हिल स्टेशन बन गया है। यह छोटा सा हिल स्टेशन अन्य कई लुप्त प्रजातियों के जीवो का निवास स्थान भी हैं। मुन्नार की यात्रा अपने आप में एक अलग ही अनुभव लेकर आती है।

यह भी पढ़ें: घूमने के लिए बेस्ट हैं ये 16 देश, जहां भारतीयों को नहीं पड़ती वीजा की ज़रूरत

अंडमान-निकोबार के द्वीप

अंडमान और निकोबार द्वीप पर पर्यटन के लिए बहुत बढ़िया जगह हैं। अंडमान में तक़रीबन 570 उष्णकटिबंधीय द्वीप है। जिनमे से केवल 36 द्वीपो पर लोग बसे हुए है। अंड़मान और निकोबार सिर्फ़ स्कूबा डाइविंग और अपने सुन्दर समुंद्री तटों के लिए ही प्रसिद्ध नहीं हैं, बल्कि यहाँ के जंगलों में पाए जाने वाले कई अलग अलग प्रजाती के प्राणी, पक्षी और सुन्दर फूल इसे एक रोमांटिक हनीमून जगह बनाते हैं।

लद्दाख की वादियां

लद्दाख की खूबसूरत हसीन वादियां आपके समर वेकेशन में चार चाँद लगा देगीं। रूईनुमा बर्फ से ढकी लद्दाख की वादियां पर्यटकों को बेहद आकर्षक दृश्य का नज़ारा कराती हैं। जिन्हें देख पर्यटक आश्चर्यचकित रह जाते हैं।

अलेप्पी घूमने के लिए बढ़िया

केरल में स्थित एक खूबसूरत शहर अलेप्पी है जिसे आलप्पुषा शहर के नाम से भी जाना जाता है। बैकवाटर और समुद्री तटों की वजह से अलेप्पी को पूर्व का वेनिस भी कहा जाता है। घूमने और केरल के स्थानीय लोगों की जीवन शैली से अवगत होना है तो यह जगह आपके लिए बेस्ट है। परिवार, दोस्त और पार्टनर के साथ घूमने के लिए केरल में अलेप्पी को सबसे बेहतरीन जगह माना जाता है।

यह भी पढ़ें: 7 हजार किमी के सफर को महज 200 किमी में बदल देती है स्‍वेज नहर, जानें- स्वेज नहर की विशेषताएं…

मनाली में आनन्द मनाए

अप्रैल का महीना घूमने के शौकीनों के लिए नई जगहों को खोजने का सबसे पसंदीदा समय होता है। ऐसे समय में जब देश के बाकी हिस्सों में गर्मी परवान चढ़ रही होती उस समय देश के उत्तरी भागों में खासकर पहाड़ी इलाकों में कम तापमान लोगों को आकर्षित करता है। हिमाचल के कुल्लू शहर से 40 किमी दूर उत्तर में पहाड़ियों के बीच बसा मनाली कस्बा सैलानियों और घूमने के शौकीन लोगों के लिए बेहद पसंदीदा जगहों में से एक है।

डोंगरी ट्रेक एक अद्भुत जगह

भारत का उत्तर पूर्वी क्षेत्र कई साहसिक और उल्लेखनीय ट्रेल्स प्रदान करता है। जो दुनिया भर में बहुत से यात्रियों को आकर्षित करता है। जो ट्रेकर्स कम समय में और अधिक एक्सप्लोर करना चाहते हैं, उनके लिए डोंगरी ट्रेक सबसे उपयुक्त विकल्प है। इस अद्भुत ट्रेक पर ट्रेकर्स को ट्रेकिंग के दौरान प्राकृतिक परिदृश्यों की मंत्रमुग्ध कर देने वाली उत्कृष्टता का पता लगाने और देखने को मिलता है।

उत्तराखंड के फूलों की घाटी

वैली ऑफ फ्लावर्स फूलों की घाटी में अलग-अलग मौसम में भिन्न-भिन्न प्रकार के फूल खिलते है। जो गति की सुंदरता को और अधिक खूबसूरत कर देते हैं। जो फूलो की घाटी की सुंदरता परिवर्तनशील प्रतीत होती हैं। हिमालय की ऊँची-ऊँची चोटियों जो वर्फ से ढंकी हुई सफ़ेद प्रतीत होती हैं। अपने आप में ही एक रमणीय दृश्य प्रस्तुत करती हैं। यदि आप भी फूलों की घाटी घूमना चाहते हैं तो उत्तराखण्ड जरूर आए।

यह भी पढ़ें: हज़ारों टन के वजन के साथ करती है लैंड जहाज, फिर भी नही फटता टायर: जानिए क्या है

कच्छ का रण एक विशेष जगह

कच्छ का रण गुजरात में कच्छ ज़िले के उत्तर तथा पूर्व में फैला हुआ एक नमकीन दलदल का वीरान स्थल है। मूलतः अरब सागर का विस्तार रहा कच्छ का रण सदियों से एकत्रित होने वाले अवसाद के कारण एक बंद क्षेत्र बन गया है। कच्छ का रण समुद्र का ही एक सँकरा अंग है जो भूकंप के कारण संभवत: अपने मौलिक तल को ऊपर उभर आया है और परिणामस्वरूप समुद्र से पृथक हो गया है।

थार मरुस्थल में शांति का अनुभव

राजस्थान भूमि को एक अलग पहचान देता है। यहां दूर-दूर तक फैला थार मरुस्थल, यह रेतिला क्षेत्र कई ऐतिहासिक लड़ाईयों का साक्षी रहा है। जीवन को सून्य स्थित पर पहुंचा देने वाली यहां की गर्म जलवायु राजस्थान का एक बड़ा सुरक्षा कवच भी मानी जाती है। जो दुश्मनों की शारीरिक क्षमताओं पर काफी हद तक प्रहार करने का काम करती है। और ‘खिमसर’ इसी मरूस्थल से घिरा हुआ राजस्थान का एक ऐतिहासिक स्थल है। जहां से आप दूर-दूर तक फैले थार क्षेत्र को देख सकते हैं।

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क एक परफेक्ट जगह

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क भारत में सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान है जिसको 1936 में बंगाल बाघ की रक्षा के लिए “हैंली नेशनल पार्क” के रूप में स्थापित किया गया था। जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान की सबसे खास बात यह है कि इसमें रॉयल बंगाल टाइगर की गंभीर रूप से लुप्तप्राय प्रजातियां पाई जाती है। अगर आप इस पार्क में घूमने के लिए जा रहे हैं, तो आपको बता दें कि इस पार्क की यात्रा यहां के जंगलों की सफारी के बिना अधूरी है। इसलिए जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान जाने पर सफारी का आनंद जरुर लें।

यह भी पढ़ें: जानकारी: क्या नॉमिनी ही होता है उत्तराधिकारी? जानिए क्या है इसके सही नियम और क्या है इनके अधिकार

ऋषिकेश के आश्रम में आध्यात्मिक शांति

ऋषिकेश, भारत के उत्तराखंड प्रदेश के देहरादून जिले में स्थित एक तहसील और नगर परिषद है। यह उत्तर भारत में हिमालय की तलहटी में स्थित है। इसे “गेटवे टू दी गढ़वाल हिमालय” और “विश्व की योग राजधानी” भी कहा जाता है। यह तीर्थस्थल भी है, जिसे हिन्दुओं के पवित्र स्थानों में से एक समझा जाता है। ऋषिकेश एक शाकाहारी शहर है। यहाँ बहुत सारे धार्मिक स्थान है, कुछ भ्रमण करने की जगहें और एडवेंचर स्पॉट भी है। भारी मात्रा में लोग यहाँ भ्रमण करने आते है।

सिंधू दुर्ग किला देखने की जगह

सिंधुदुर्ग किला महाराष्ट्र राज्य के मालवन में समुद्र तट पर स्थित एक प्राचीन किला है। जो अरब सागर में एक टापू पर स्थित है। सिंधुदुर्ग किला का निर्माण सन् 1664 में छत्रपति शिवाजी द्वारा अंग्रेजी, डच, फ्रेंच और पुर्तगाली व्यापारियों के बढ़ते प्रभाव से सुरक्षा प्रदान करने और सिद्दी के उदय को रोकने के उद्देश्य से किया गया था। वैसे तो आप साल की किसी भी समय यहाँ घूमने आ सकते है लेकिन अक्टूबर और फरवरी के बीच के सर्दियों के महीने सिंधुदुर्ग किला और मालवन घूमने के लिए सबसे अच्छा महीना है।

कुर्गू एक खूबसूरत हिल स्टेशन

सदाबहार लकड़ी के जंगल, धुंध की पहाड़ियां, आकर्षक चोटियां, हरी-भरी घाटियां और शांति का एक अंतहीन खंड कूर्ग शहर की विशेषता हैं। आप भी इस खूबसूरत शहर में घूमने का मौका बिल्कुल न छोड़ें। कूर्ग हिल्स स्टेशन या कोडगु पर्यटन स्थल भारत के कर्नाटक राज्य में मौजूद है। जो कि अपने खूबसूरत पर्यटन स्थल और वादियों के लिए जाना जाता है। मशहूर कूर्ग प्रकृति प्रेमियों को यकीनन बेहद पसंद आने वाला है।

यह भी पढ़ें: आज जानिए अपने देश ‘भारत’ के नाम के पीछे का पूरा इतिहास

आशा है कि इन जगहों के बारे में जानने के बाद आप आराम से सफर का आनंद ले सकेंगे।

Sunidhi Kashyap
Sunidhi Kashyap
सुनिधि वर्तमान में St Xavier's College से बीसीए कर रहीं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ सुनिधि अपने खूबसूरत कलम से दुनिया में बदलाव लाने की हसरत भी रखती हैं।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -