17.1 C
New Delhi
Wednesday, February 8, 2023

बिना कोचिंग किए पहले ही प्रयास में UPSC निकाल लिया, पढ़िए IAS अरुण राज की प्रेरणादायी कहानी

प्रत्येक व्यक्ति को अपने आप पर भरोसा रखना बहुत जरूरी है। आपका भरोसा ही तो आपका आत्मविश्वास है जो आपको उन्नति की राह तक ले जाता है, और आप जीवन में सफलता हासिल करते है।इससे आपको कठिन से कठिन काम को बेहतर ढंग से करने की हिम्मत मिलती है, और आप हर मुश्किल से मुश्किल कार्य को आसानी से कर सकते हैं। भले ही किसी को आप पर विश्वास हो या नहीं। ऐसा भी नहीं होना चाहिए कि आप अतिआत्मविश्वास के शिकार हो जाएं। यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है, लेकिन आत्मविश्वास होना जरूरी है। आज की कहानी एक ऐसे ही इंसान की है जिन्होंने अपने आप पर विश्वास रखा और सफल भी हो गए।

कौन है अरुण राज?

उत्तर प्रदेश के अरुण अरुण राज एक ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्होंने पहले प्रयास में और बिना कोचिंग UPSC सिविल सेवा परीक्षा पास किये और 34वीं रैंक हासिल किये। अरुण राज उन कैंडिडेट्स में से नहीं थे जिनके पास आईआईटी के साथ ही यूपीएससी की तैयारी करने जैसी कोई मजबूरी या कोई दबाव हो। ये उनकी खुद की पसंद थी। खुद पर विश्वास रखकर उन्होंने सफलता हासिल की।

अरुण प्रारंभ से ही अव्वल छात्र रहे।

अरुण बचपन से ही पढ़ाई में बहुत अच्छे थे और उनके तकरीबन हर क्लास में ही बढ़िया नंबर आते थे।उनकी पढ़ाई सीबीएसई बोर्ड से हुई। दसवीं, बारहवीं के बाद उन्होंने कठिन माने जाने वाले आईआईटी जेईई एग्जाम को भी पास कर लिया। अरुण को आईआईटी कानपुर मिला।यहां से ग्रेजुएशन करते समय ही अरुण तय कर चुके थे कि उन्हें यूपीएससी परीक्षा ही पास करनी है।

स्नातक और यूपीएससी साथ मे निकाला।

अरुण ने ग्रेजुएशन के आखिरी साल से ही सेल्फ स्टडी के माध्यम से यूपीएससी की तैयारी भी शुरू कर दी। अरुण ने दिन के घंटे बांटे हुये थे कि उन्हें कब स्नातक की पढ़ाई करनी है और कब यूपीएससी की।करीब डेढ़ साल तक अरुण ने यह किया। शायद यही कारण था कि उनकी दोनों बड़ी परीक्षाएं साथ ही में पास हो गयीं। एक परीक्षा दूसरे की रास्ते का रुकावट नही बनी।

किसी कोचिंग का सहारा नही लिया।

अरुण ने सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के लिए कोई कोचिंग जॉइन न कर खुद तैयारी की। अरुण कहते हैं कि बगैर कोचिंग के तैयारी करने वाले कैंडीडेट्स इस बात का ध्यान रखें कि कोचिंग करते हुए सभी का टाइम टेबल होता है। घर पर रहकर भी उसी टाइम टेबल के मुताबिक पढ़ाई करें। खुद को समझाएं कि आप ही खुद को कोचिंग दे रहे हैं। खुद को टारगेट कर तैयारी करेंगे तो सफलता हासिल होगी। जो भी पढ़ें उसे लिखे भी, क्योंकि जब परीक्षा में लिखेंगे तो मुश्किल नहीं होगा।

IAS अरुण से हमे यह सिख मिलती है कि आपको खुद पर विश्वास नहीं होगा तो आप कभी भी अपना काम दृढ़ता से नहीं कर पाएंगे और सफलता नहीं पाएंगे। व्यक्ति अपने जीवन में तभी आगे बढ़ता है जब वह अपने आत्मविश्वास के साथ लक्ष्य की और कदम बढ़ाता है।

Medha Pragati
Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।

Related Articles

Stay Connected

95,301FansLike
- Advertisement -